शिक्षा से वंचित लाखों महिलाओं के लिए एक दूसरे अवसर की ज़रूरत क्यों है

Women learning
Photo: Priya Naresh and Aniket Kolarker

क्या आप जानते हैं कि लगभग 50 करोड़ महिलाएँ अभी भी निरक्षर हैं?

बीएचपी फाउंडेशन के साथ साझेदारी में यू एन वुमेन इन महिलाओं को वैश्विक दूसरा मौका मॉडल से उनकी शिक्षा में कमी को पूरा करने और उन्हेंकमाई और नेतृत्व के अवसरों से जोड़ने की कोशिश कर रहा है।

माई सेकंड चांस’ वेबसाइट के माध्यम से आप महिलाओं को सशक्त बनाने, सीखने, कमाने और नेतृत्व करने की यात्रा में शामिल हो सकते हैं।

दूसरा मौका कार्यक्रम क्या है

दूसरा मौका कार्यक्रम (2018-2021) विश्व की सबसे वंचित महिलाओं और युवा महिलाओं में से कुछ को उम्मीद देता है - वे महिलाएं जो शिक्षा से चूक गई हैं और उनके पीछे छूट जाने का खतरा है। इस कार्यक्रम को कैमरून, जॉर्डन, भारत, मैक्सिको, चिली और ऑस्ट्रेलिया में पायलट के रूप में शुरु किया गया है। इसका लाभ सीधे जनजातीय, शरणार्थी, विस्थापित और कम आय वाले समूहों की 67,000 युवा महिलाओं को मिल रहा है।

स्थानीय संगठनों के माध्यम से, दूसरा मौका कार्यक्रम महिलाओं को ऐसी सहायता प्रदान करता है जो सीखने और कमाने में उनकी आवश्यकताओं के अनुरूप है। यह महिलाओं को औपचारिक शिक्षा में वापस लाने में मदद करता है। इसके अलावा यह व्यावहारिक कौशल और उद्यमिता में सम्मुख (फेस टू फेस) प्रशिक्षण प्रदान करता है, और स्वयं से सीखने के लिए भी सहायता प्रदान करता है।

यह ऑनलाइन (इस वेबसाइट के माध्यम से) और ऑफलाइन (महिला सशक्तिकरण केंद्रों) में सीखने की सामग्री तक आपकी पहुँच बना देता है।

महिलाओं की शिक्षा को स्थानीय कमाई के अवसरों से जोड़कर और उन्हें नौकरी खोजने या खुद का व्यवसाय स्थापित करने में मदद कर यह उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त करता है।

और यह महिलाओं के परिवारों और समुदायों के साथ मिलकर सामाजिक व्यवहार और मानदंडों को बदलने के लिए काम करता है।

ऑनलाइन और सम्मुख फेस फेस की सीख क्या है?

Women in India
Photo: Priya Naresh and Aniket Kolarker

छह पायलट देशों के महिला सशक्तीकरण केंद्रों में कई महिलाओं के नाम दर्ज हंै - जहां उन्हें दूसरा मौका प्रशिक्षकों द्वारा मार्गदर्शन मिलता है। सम्मुख सीखने (फेस टू फेस) और यह ऑनलाइन प्लेटफॉर्म एक दूसरे के पूरक है। हमारे भागीदारों द्वारा बनाई जा रही सामग्री को भी इस वेबसाइट में सम्मिलित किया जाता है ताकि अधिक से अधिक लोग इसका उपयोग कर सकें।

कार्यक्रम में ऐसी शिक्षा सामग्री शामिल की जाती है जो महिला लाभार्थियों की ज़रूरतों को पूरा करती है। विश्व स्तर से ली गई अधिकांश सामग्री इस कार्यक्रम  के प्रतिभागियों के लिए अनुपयुक्त है क्योंकि यह उनके सांस्कृतिक, सामाजिक या आर्थिक संदर्भों से नहीं जुड़ी होती है, और अक्सर उच्च शैक्षिक प्राप्ति वाले लोगों के लिए बनाई जाती है।

दूसरा मौका शिक्षा के सामग्री और मार्ग प्रायः दो स्रोतों से विकसित किए जा रहे हैंः मौजूदा सार्वजनिक पाठ्यक्रम, और कार्यक्रम में भाग लेने वाली महिलाओं के साथ सीधे काम करने वाले स्थानीय भागीदारों द्वारा बनाई गई सामग्री।

महिलाओं में निवेश आर्थिक समझदारी क्यों है

"three happy women"
Photo: Priya Naresh and Aniket Kolarker

शिक्षित महिलाओं में अधिक स्वास्थ, अधिक कमाने और घर के भीतर अधिक निर्णय लेने की शक्ति की संभावना बढ़ती है। महिलाओं की बेहतर शिक्षा, राष्ट्र के आर्थिक विकास से जुड़ी है। वास्तव में महिलाओं में निवेश करने में आर्थिक समझदारी है।

परन्तु इसके विपरीत 2014 में केवल 46 प्रतिशत देशों ने निम्न माध्यमिक शिक्षा और 23 प्रतिशत नें उच्चतर माध्यमिक में लैंगिक समानता हासिल किया था।

लड़कियों और युवा महिलाओं की पीढ़ीयां बुनियादी शैक्षिक अवसरों से वंचित है जो न केवल उनके लिए बल्कि उनकेे देश और समुदाय के सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। महिलाओं को शिक्षा, प्रशिक्षण और आजीविका सहायता प्रदान करना न केवल उन्हें सशक्त बनाता है बल्कि दीर्घकालिक रूप से आर्थिक वृद्धि और विकास में भी योगदान देता है।

शिक्षा और काम के उपयुक्त अवसरों से वंचित युवा महिलाओं के लिए समाधान निकालने की तत्काल आवश्यकता है। इस मुहिम में शामिल हों और अत्याधिक महिलाओं को एक दूसरा मौका दें!

हमसे जुड़ें

Smiling woman in India
Photo: Priya Naresh and Aniket Kolarker
  • यदि आप एक शिक्षार्थी के रूप में दूसरा मौका कार्यक्रम में भाग लेना चाहते हैं, तो इस वेबसाइट पर पाठ्यक्रमों को देखें और आरंभ करने के लिए पंजीकरण करें।
  • यदि आप कार्यक्रम के बारे में या विभिन्न पायलट देशों में क्या हो रहा है उसके बारे में और अधिक जानकारी चाहते हैं, तो दूसरा मौका यूट्यूब (YouTube) चैनल, Twitter, Facebook, Instagram and LinkedIn
  • यदि आप इस प्लेटफॉर्म पर सामग्री बनाने में योगदान कर सकते हैं, तो हमसे support.sce@unwomen.org पर संपर्क करें।

स्रोतः

लगभग 500 मिलियन निरक्षर महिलाएँ: http://uis.unesco.org/sites/default/files/documents/fs45-literacy-rates-continue-rise-generation-to-next-en-2017_0.pdf

माध्यमिक शिक्षा में लैंगिक समानता: https://unesdoc.unesco.org/ark:/48223/pf0000246045